Agri Junction |Buy Seeds Online| Buy Plants| Organic Pesticides In India| Agricultural Tools
Economy

गेहूँ की खेती- बुआई से लेकर कटाई तक

26 Sep,2022 12:43 PM

गेहूँ मध्य पूर्व के लेवांत क्षेत्र से आई एक घास है, जिसकी खेती दुनिया भर में की जाती है। विश्व भर में, भोजन के लिए उगाई जाने वाली धान्य फसलों मे मक्का के बाद गेहूं दूसरी सबसे ज्यादा उगाई जाने वाले फसल है, गेहूँ की उपज लगातार बढ रही है। यह वृध्दि गेहूँ की उन्नत किस्मों तथा वैज्ञानिक विधियों से हो रही है। भारत गेहूं का दूसरा बड़ा उत्पादक देश है केरल, मणिपुर व नागालैंड राज्यों को छोड़ कर अन्य सभी राज्यों में इस की खेती की जाती है उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश व पंजाब सर्वाधिक रकबे में गेहूं की पैदावार करने वाले राज्य हैं।

View detail
Disease

लंपी त्वचा रोग

26 Sep,2022 07:56 AM

कोविड से जूझ रही दुनिया में मंकी पॉक्स के बाद अब एक और दुर्लभ संक्रमण के उभरने से वैज्ञानिक चिंतित हैं। गुजरात में इस समय एक खतरनाक बीमारी की वजह से करीब 1000 गायों और भैंसों की मौत हो गई है। मवेशियों में फैलने वाले इस रोग का नाम लंपी त्वचा रोग बताया जा रहा है। हालांकि भारत में पहली बार इस रोग के मामले दर्ज किए गए हैं। आइए जानते हैं आखिर क्या है ये रोग और कैसे फैल रहा है।

View detail
Seeds

भारत में सरसों की खेती

19 Sep,2022 05:27 PM

भारत में सरसों की खेती दुनिया का चौथा सबसे बड़ा उत्पादक है। साथ ही, सरसों की फसल का कुल तिलहन उत्पादन में लगभग 28.6% का योगदान है। इसलिए सरसों का पौधा भारत की एक महत्वपूर्ण तिलहन फसल है। इसके पौधे का उपयोग हरी सब्जियों के रूप में और सरसों के बीज और उनके तेल का इस्तेमाल खाना बनाने में किया जाता है। इसके तेल का आमतौर पर भारतीय खाना पकाने में उपयोग की जाती है।

View detail
Economy

भारतीय अर्थव्यवस्था में पशुधन की भूमिका

13 Sep,2022 11:21 AM

भारतीय अर्थव्यवस्था में पशुधन एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। लगभग 20.5 मिलियन लोग अपनी आजीविका के लिए पशुधन पर निर्भर हैं। छोटे खेतिहर किसान परिवारों की आय में पशुधन का योगदान 16% है, जबकि सभी ग्रामीण परिवारों का औसत 14% है। पशुधन दो-तिहाई ग्रामीण समुदाय को आजीविका प्रदान करता है। साथ ही साथ, भारत में लगभग 8.8% आबादी को रोजगार भी प्रदान करता है। भारत के पास विशाल पशुधन संसाधन हैं। पशुधन क्षेत्र सकल घरेलू उत्पाद में 4.11% और कुल कृषि सकल घरेलू उत्पाद का 25.6% योगदान देता है।

View detail
Economy

कृषि वैज्ञानिकों की सलाह, बारिश के पूर्वानुमान को देखते हुए करें यह कार्य

04 Aug,2022 12:20 PM

भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान के वैज्ञानिकों ने बारिश के पूर्वानुमान को ध्यान में रखते हुए धान, मक्का, ज्वार समेत अन्य फसलों के लिए एडवाइजरी जारी की है। वैज्ञानिकों की सलाह को मानकर किसान भाई फसल उत्पादन बढ़ा सकते हैं।

View detail
Pulses

परिवार ने टेरेस को हरे-भरे जैविक फार्म में बदला, घरेलू खर्च में 60% की कटौती

26 Apr,2022 06:34 PM

84 वर्षीय हेमा राव हर सुबह बेंगलुरु में अपने घर की एक मंजिल पर हाथ में एक छोटी टोकरी लेकर चढ़ जाती हैं। एक बार जब वह अपने अपार्टमेंट परिसर की छत पर पहुँचती है, तो वह चारों ओर घूमती है, हरे-भरे वनस्पति पौधों के नीले रंग के ड्रमों का ध्यानपूर्वक निरीक्षण करती है, जो 12,000 वर्ग फुट में फैले हुए हैं।

View detail
Seeds

धान का अधिक उत्पादन कैसे प्राप्त करें?

17 Jan,2022 07:01 PM

सरजू- 52, नरेन्द्र-2026-2064, पूसा-44, क्रान्ति, नरेन्द्र- 359, सीता। सुगन्धित धान मालवीय सुगन्ध-105, नरेन्द्र सुगन्ध, टा-3, पूसा बासमती-1, स्वर्णा वल्लभ बासमती - 22, हरियाणा बासमती-1, बासमती-370, कस्तूरी तारावणी बासमती ऊसरीली भूमि: साकेत-4, नरेन्द्र ऊसर धान-1, 2 व 3, सी. एस. आर 10 नरेन्द्र ऊसर धान 2008 व 2009, महसूरी, सोना।

View detail
Seeds

खरीफ की फसलों से अधिक उत्पादन कैसे प्राप्त करें ?

17 Jan,2022 06:48 PM

उत्तर प्रदेश में खरीफ में मुख्य रूप से धान, मक्का, ज्वार और बाजरा, अरहर,उर्द, मूंग, मूंगफली, गन्ना आदि फसलें बोई जाती है। इसमें रबी की अपेक्षा उर्वरकों का कम प्रयोग कीट व बीमारियों के अधिक प्रकोप एवं वर्षा अनियमित होने से इनके उत्पादन पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है। खरीफ की फसलों से अधिक उत्पादन लेने के लिए अच्छे बीज, संतुलित उर्वरक, जल निकास का उचित प्रबन्ध, सिंचाई प्रबन्ध, फसल सुरक्षा आदि पर ध्यान देना अत्यन्त आवश्यक है, जिसके लिए निम्न सुझावों को ध्यान में रखते हुए यदि खेती की जाए तो अधिक उपज प्राप्त की जा सकती है।

View detail
Plant Nutrients

पपीता की खेती कैसे करें?

18 Dec,2021 05:49 AM

पौधे लगाने के 10 से 13 माह बाद फल तोडने लायक हो जाते है। फलों का रंग गहरा हरे रंग से बदलकर हल्‍का पीला होने लगता है तथा फलों पर नाखुन लगने से दूध की जगह पानी तथा तरल निकलता हो तो समझना चाहिए कि फल पक गया है । एक पौधे से औसतन 150 – 200 ग्राम पपेन प्राप्त हो जाती है प्रति पौधा 40 -70 किलो पति पौधा उपज प्राप्त हो जाती है।

View detail
Seeds

मशरूम की खेती कैसे करें.

18 Dec,2021 05:48 AM

पिछले कुछ वर्षों में किसानों का रुझान मशरूम की खेती की तरफ तेजी से बढ़ा है, मशरूम की खेती बेहतर आमदनी का जरिया बन सकती है। बस कुछ बातों का ध्यान रखना होता है, बाजार में मशरूम का अच्छा दाम मिल जाता है। अलग-अलग राज्यों में किसान मशरूम की खेती से अच्छा मुनाफा कमा रहे हैं, कम जगह और कम समय के साथ ही इसकी खेती में लागत भी बहुत कम लगती है, जबकि मुनाफा लागत से कई गुना ज्यादा मिल जाता है। मशरूम की खेती के लिए किसान किसी भी कृषि विज्ञान केंद्र या फिर कृषि विश्वविद्यालय में प्रशिक्षण ले सकते हैं।

View detail
Seeds

भारतीय कृषि में दालों की भूमिका

18 Dec,2021 05:46 AM

भारतीय कृषि में दालों का महत्वपूर्ण स्थान है। भारत में, दालें 23.8 मिलियन हेक्टेयर क्षेत्र में उगाई जाती हैं, जिसका कुल उत्पादन 18.6 मिलियन टन है। औसत…

View detail
Seeds

अक्टूबर माह की कृषि गतिविधियाँ

18 Dec,2021 05:40 AM

1. ऊंचाई वाले क्षेत्रों में गोभी, नॉल-खोल, मूली, मिर्च, बैगन की तुड़ाई जारी है। 2. ऊंचाई वाले क्षेत्रों में सर्दियों के आलू की निराई, टॉप ड्रेसिंग और मिट्टी की जुताई…

View detail